समुद्र में चीनी जहाज को भारतीय नौसेना ने ‘खदेड़’ दिया

चीन की विस्तार वादी नीति से उसके तमाम पड़ोसी परेशान रहते हैं। वस्तुतः चीन रह-रह कर अपने पड़ोसियों को उकसाने की कोशिश करता है, लेकिन उसकी दाल भारत के सामने नहीं गलती है। ऐसा ही एक वाकया हुआ और भारत के सामने उसे मुंह की खानी पड़ी।

जी हां! भारतीय नौसेना के चीफ एडमिरल करमवीर सिंह द्वारा एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा गया है कि चीन का शी यान 1 जहाज बिना परमिशन के भारतीय जल-क्षेत्र में प्रवेश कर गया था, जिसे कड़ाई से लौटा दिया गया था।
वहीं भारतीय नौसेना के एंटी पायरेसी मिशन को सफल बताते हुए एडमिरल करमवीर सिंह ने यह भी कहा कि इस मिशन में 120 समुद्री पाइरेट्स को पकड़ा गया जबकि पायरेसी के 44 मामले सामने आए।

चीन के मामले में भारतीय नौसेना ने साफ कर दिया है कि हमारे जल क्षेत्र का उल्लंघन किसी के द्वारा करना संभव नहीं है वह चाहे चीन हो या कोई और। उम्मीद कि जा रही है कि चीन इस प्रतिरोध से सबक लेगा और जल में दुस्साहस करने से कोसों दूर रहेगा।