मंदी की वजह से ऑटो कंपोनेंट इंडस्‍ट्री में 1 लाख लोगों की जॉब छूटी

अन्य इंडस्ट्रीज की तरह ऑटो इंडस्ट्री में भी इस समय मंदी का दौर चल रहा है। इस चालू वित्त वर्ष के पहले 6 महीने में ही ऑटो कंपोनेंट यानी कि वाहन कल पुर्जा इंडस्ट्री से एक लाख अस्थायी लोगों की नौकरियां छूट चुकी हैं।

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई का कहना है कि मार्केट में चल रहे स्लोडाउन की वजह से ऑटो इंडस्ट्री का कल पूजा डिपार्टमेंट भी बुरी तरीके से प्रभावित हुआ है। वहीं मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन ने आंकड़ा दिया है कि पिछले साल चालू वित्त वर्ष के पहले 6 महीने में ऑटो कॉम्पोनेन्ट इंडस्ट्री ने 1.79 लाख करोड़ रुपए का बिजनेस किया था।

जबकि इस साल चालू वित्त वर्ष के शुरूआती 6 महीने में कारोबार में 10% की गिरावट दर्ज की गई है। इतना ही नहीं ऑटो कंपोनेंट इंडस्ट्री में इन्वेस्टमेंट करने वाले लोगों को 2 अरब डॉलर का भारी नुकसान भी सहना पड़ा है। ज्ञात हो कि पिछले कुछ समय से ऑटो इंडस्ट्री में बेहद मंदी का दौर चल रहा है और इस मंदी में इस सेक्टर की बड़ी-बड़ी धुरंधर कंपनियां भी प्रभावित हुई है। मारुति सुजुकी, अशोका लीलैंड जैसे बड़े ब्रांड भी मंदी के इस दौर अपने आप को बचा नहीं पाए हैं।